भारत और पाकिस्तान में अंतर

भारत-

गूगल का CEO-भारतीय
माइक्रोसॉफ्ट का CEO-भारतीय
पेप्सिको का CEO-भारतीय
मास्टर कार्ड का CEO-भारतीय
डॉयचे बैंक का CO-CEO-भारतीय
जैगुआर,लैंड रोवर,रेंज रोवर के MD-भारतीय

पाकिस्तान-

अल-कायदा का CEO-पाकिस्तानी
लश्कर-ऐ-तैयबा का CEO-पाकिस्तानी
तालिबान का CEO-पाकिस्तानी
हिजबुल का CEO-पाकिस्तानी
जमात-उद-दावा का CEO-पाकिस्तानी
XYZ आतंकवादी ग्रुप्स के CEO-पाकिस्तानी !!!!!!!!! 😁😬😁😬

Love Your Parents

धयान से पढ़ना आँखों में पानी आ जाएगा. बड़े गुस्से से मैं घर से चला आया .. इतना गुस्सा था की गलती से पापा के ही जूते पहन के निकल गया मैं आज बस घर छोड़ दूंगा, और तभी लौटूंगा जब बहुत बड़ा आदमी बन जाऊंगा … जब मोटर साइकिल नहीं दिलवा सकते थे, तो क्यूँ इंजीनियर बनाने के सपने देखतें है ….. आज मैं पापा का पर्स भी उठा लाया था …. जिसे किसी को हाथ तक न लगाने देते थे … मुझे पता है इस पर्स मैं जरुर पैसो के हिसाब की डायरी होगी …. पता तो चले कितना माल छुपाया है ….. माँ से भी … इसीलिए हाथ नहीं लगाने देते किसी को.. जैसे ही मैं कच्चे रास्ते से सड़क पर आया, मुझे लगा जूतों में कुछ चुभ रहा है …. मैंने जूता निकाल कर देखा ….. मेरी एडी से थोडा सा खून रिस आया था … जूते की कोई कील निकली हुयी थी, दर्द तो हुआ पर गुस्सा बहुत था .. और मुझे जाना ही था घर छोड़कर … जैसे ही कुछ दूर चला …. मुझे पांवो में गिला गिला लगा, सड़क पर पानी बिखरा पड़ा था …. पाँव उठा के देखा तो जूते का तला टुटा था ….. जैसे तेसे लंगडाकर बस स्टॉप पहुंचा, पता चला एक घंटे तक कोई बस नहीं थी ….. मैंने सोचा क्यों न पर्स की तलाशी ली जाये …. मैंने पर्स खोला, एक पर्ची दिखाई दी, लिखा था.. लैपटॉप के लिए 40 हजार उधार लिए पर लैपटॉप तो घर मैं मेरे पास है ? दूसरा एक मुड़ा हुआ पन्ना देखा, उसमे उनके ऑफिस की किसी हॉबी डे का लिखा था उन्होंने हॉबी लिखी अच्छे जूते पहनना …… ओह….अच्छे जुते पहनना ??? पर उनके जुते तो ………..!!!! माँ पिछले चार महीने से हर पहली को कहती है नए जुते ले लो … और वे हर बार कहते “अभी तो 6 महीने जूते और चलेंगे ..” मैं अब समझा कितने चलेंगे ……तीसरी पर्ची ………. पुराना स्कूटर दीजिये एक्सचेंज में नयी मोटर साइकिल ले जाइये … पढ़ते ही दिमाग घूम गया….. पापा का स्कूटर …………. ओह्ह्ह्ह मैं घर की और भागा…….. अब पांवो में वो कील नही चुभ रही थी …. मैं घर पहुंचा ….. न पापा थे न स्कूटर ………….. ओह्ह्ह नही मैं समझ गया कहाँ गए …. मैं दौड़ा ….. और एजेंसी पर पहुंचा…… पापा वहीँ थे …………… मैंने उनको गले से लगा लिया, और आंसुओ से उनका कन्धा भिगो दिया .. …..नहीं…पापा नहीं…….. मुझे नहीं चाहिए मोटर साइकिल… बस आप नए जुते ले लो और मुझे अब बड़ा आदमी बनना है.. वो भी आपके तरीके से …।। “माँ” एक ऐसी बैंक है जहाँ आप हर भावना और दुख जमा कर सकते है… और “पापा” एक ऐसा क्रेडिट कार्ड है जिनके पास बैलेंस न होते हुए भी हमारे सपने पूरे करने की कोशिश करते है…. ….

आज का ज्ञान

😳
:

ये जो
कुल्फी खाते हुये
एक हंथेली
कुल्फी के नीचे लगाये रहते हो ना

इसे ही गीता में श्रीकृष्ण ने मोह बताया है.
😂😂😜😜😜
Or
और कुल्फी खतम होने के बाद भी जो डण्डी चाटते ही रहते हैं

इसे ही गीता में श्रीकृष्ण ने लोभ कहा है
🙏😀🙏

😂😂😜😜😜
और डण्डी फेकने के बाद , सामने वाले की कुल्फी देखकर सोचना कि उसकी खत्म क्यों नहीं हुई,

इसे गीता मे ईष्या कहा गया है, ☺😂😀😌😋
और कुल्फी खतम होने से पहले डऩ्डी से नीचे गिर जाये और केवल डण्डी हाथ मे रह जाये तब तुम्हारे मन में जो आता है…. 😁 इसे ही गीता मे क्रोध कहा है 😳

और इसे पढ़कर जो हसी आती है उसे मोक्ष कहते है 😝

ये जो मटर पनीर की सब्जी में से पनीर छाट छाट के खा लेते हो ना……

😂शास्त्रो में इसे ही छल कहा गया है।😂

ये जो तुम लम्बी दूरी की यात्रा करने के लिए बस में चढ़ने से पहले एक बार “वाशरूम” जाके आते हो ना,

शास्त्रो में इसे ही “शंका” कहा गया है 😂😂

ये जो तुम मेसेज़ भेजने के बाद
बार बार दो नीली धारियाँ चेक
करते हो ना …

इसे ही शास्त्रों में ‘उतावलापन’ कहा गया है…

😊

ये जो तुम लोग केले 🍌 खरीदते वक्त, अंगूर 🍇 क्या भाव दिये ? बोल के 5-7 अंगूर खा जाते हो ना……शास्त्रो में इसे ही “अक्षम्य अपराध” कहा गया है।😂😂😜😜😜😜

ये घरवाले जो जगाने के लिए सुबह-सुबह कूलर-पंखा बंद कर देते हैं,
शास्त्रों में इसे ही छल कपट कहा गया है..

😊😊😊

फ्रूटी खत्म होने के बाद ये जो आप
स्ट्रा से सुड़प-सुड़प करके
आखिरी बून्द तक
पीने की कोशिश करते हो न…..

शास्त्रो में इसे ही
‘मृगतृष्णा’ कहा गया है। 😂😂

ये जो ताला,
लगाने के बाद उसे पकड़ कर खींचते हो ना….
.
इसे ही शास्त्रों में भय कहा गया है…|👹 😂😂😂

WhatsApp पर चेटिंग

एक लड़के की सगाई एक बहुत
ही खूबसूरत लड़की के साथ तय
हुयी…💬
💬 वो दोनों पूरे पूरे दिन WhatsApp पर चेटिंग करते
रहते थे ..💬
💬 आखिर उन दोनों की शादी हो गयी💬
💬 उस रात लड़का, लड़की का घूंघट उठाकर
बोला 💬
💬 तुम वाकई ही बहुत खूबसूरत हो” 💬
💬 बताओ हनीमून के लिए कहाँ चलें ?💬
💬
लड़की शर्माती हुयी बोली:-”अदले
हफ्ते दम्मू ततमील तले… ??💬”
💬😀 :Bhaiya. कम से कम एक कॉल तो कर लेना चाहिए
था.💬
💬 देख लिया …फ्री के whatsapp
का नतीजा ?💬
💬 अब जा ‘दम्मू ततमील’ ..

पुलिस और पत्नी में 12 समानताएं

1. ना इनकी दोस्ती अच्छी और ना ही दुश्मनी।
2. इनसे बनाकर रखना, मजबूरी है।
3. इनका मूड पता ही नहीं चलता, कब बिगड़ जाए।
4. अगर वे प्यार से बात करें तो अलर्ट हो जाएं।
5. दोनों ही खतरनाक धमकी देते हैं।
6. इनसे बहस में जीतना मुश्किल ही नहीं, नामुमकिन है।
7. ये पिछला हिसाब याद रखते हैं।
8. अपने राज कभी नहीं खोलते।
9. इनको जबर्दस्ती तारीफ चाहिए।
10. सुन भले ही आपकी लें पर करेंगे अपने मन की ही।
11. दोनों ही रौब से काम लेते हैं।
12. इनकी नजर हमेशा आपकी जेब पर रहती है।
सूचना जनहित में जारी! —🐄🐃🐍

इश्क़ करने वालों उल्फ़त से अच्छी तनहाई है

शराब पीता हूँ मैं तो इसमें भला क्या बुराई है,
ताना देने वालों मुझसे पूछो क्या गमे जुदाई है।
प्यार हुआ है जबसे ‘मैं’ कहीं खो सा गया हूँ,
इश्क़ करने वालों उल्फ़त से अच्छी तनहाई है।
दिल टूटा दर्द हुआ अश्क निकले मैं खूब रोया,
पहले हाले दिल तनहाई था अब दर्दे दिल तनहाई है।
रिश्ते टूटे आस छूटी अब क्यूँ जीऊँ क्यूँ कमाऊ,
अब ऐसा कौन है शहर में जिससे मेरी आशनाई है।
जाम लगा जो होठों से तो दिल को सुकून मिला थोड़ा,
मैखाना है अपना या साकी है, बाकी दुनिया हरजाई है।
दिल मेरा दर्द मेरा, शाम मेरी जाम मेरा मर्जी मेरी,
ऐ दुनिया तुझे भुलाने की बस यही महफूज दवाई है।

Ahista chal zindagi

Ahista chal zindagi, abhi
kai karz chukana baki
ha.
Kuchh dard mitana baaki
hai, kuchh farz
nibhana baki hai.
Raftaar mein tere chalne
se kuchh Ruooth gaye,
kuchh chhut gaye.
Roothon ko manana
baaki hai, Roton ko
hasana baki hai.
Kuch hasraten abhi adhuri hain, kuchh kaam bhi aur zaruri hai.
Khwahishen jo ghut gayi
is dil mein unko dafnana baki hai.
Kuch rishte ban kar toot
gaye, kuchh judte-judte
chhut gaye.
Un tootte-chhutte
rishton ke zakhmon ko
mitana baki hai.
Tu Aage chal main Aata hun,
kya chhor tujhe ji paunga?
In saanso par haq hai
jinka,
Unko samjhana
baaki hai.
Ahista chal zindagi abhi
kai karz chukana baki
hai…….

लाडली

एक आदमी की 8 साल
की इकलोती और
लाडली बेटी बीमार पड़ गयी.
बहुत कोशिश के बाद भी वो नहीं बच पाई.
पिता गहरे शोक में डूब गया और खुद को दुनिया और दोस्तों से दूर कर लिया.
एक रात उसे सपना आया की वो स्वर्ग में
था जहाँ नन्ही परियो का जुलुस जा रहा था. वो सब
जलती मोमबत्ती को हाथ में लिए सफ़ेद पोशाक में
थी. उनमे से एक
लड़की की मोमबत्ती बुझी
थी. व्यक्ति ने पास जाकर
देखा तो वो उसकी बेटी थी. उसने
अपनी बेटी को दुलारा और
पूछा की ‘बेटी तुम्हारी मोमबत्त
रौशनी क्यों नहीं हैं?’
लड़की बोली की ‘पापा ये लोग कई बार
मेरी मोमबत्ती जलाते हैं लेकिन आपके आंसुओ से
हर बार बुझ जाती हैं.” एकदम से उस
आदमी की नीदं खुली और
उसे सपने का मतलब समझ आ गया. तब से उसने दोस्तों से मिलना खुश
रहना शुरू कर दिया ताकि उसके आंसुओ से
उसकी बेटी की मोमबत्ती न
बुझे.
“कई बार हमारे आंसू और दुःख, हमारे न चाहते हुए
भी अपनों को दुःख देते हैं. और वे
भी दुखी हो जाते हैं.

wife is always right

पति दूध पीकर : छीः ये कैसा दूध है ?

बीवी : वो केसर ख़त्म हो गया था जी
तो मैंने आपकी जेब से
‘बिमल पान मसाला’ डाल दिया क्योंकि
इसके दाने -दाने मे है केसर का दम
😝😝 wife is always right

👆👆👆