good-night-hindi-shayari-mazekro.jpg good night hindi shayari mazekro

वो ज़ख्म कैसे दिखाए

वो नाराज़ हैं हमसे कि हम कुछ लिखते नहीं;
कहाँ से लाएं लफ्ज़ जब हमको मिलते नहीं;
दर्द की ज़ुबान होती तो बता देते शायद;
वो ज़ख्म कैसे दिखाए जो दिखते नहीं

Comments

comments


Leave a Reply

Your email address will not be published.

7 + 12 =